Prime Minister Modi security Big breach accused reached PM meeting posing as fake NSG guard with weapons Mumbai police प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में बहुत बड़ी सेंध, नकली NSG गार्ड बनकर पहुंचा आरोपी

Image Source : FILE
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में बड़ी सेंध लगने से मुंबई पुलिस ने बचा लिया। एक व्यक्ति फर्जी NSG गार्ड बनकर पीएम मोदी की BKC रैली में पहुंच गया। उसके पास हथियार भी था। पुलिस को उसपर शक हुआ, जिसके बाद उसे हिरासत में लेकर जांच की गई। आरोपी के पास NSG का आईडी कार्ड बरामद हुआ। पुलिस ने इस मामले में NSG से संपर्क किया तब पता लगा कि हिरासत में लिया गया आरोपी नकली सैनिक है। जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। 

आरोपी ने बाकायदा NSG का एक ID कार्ड भी दिखाया

मामला गुरूवार का है। पीएम नरेंद्र मोदी मुंबई के बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स (बीकेसी) पहुंचने वाले थे। इसे लेकर सुरक्षा एजेंसियों ने चेतावनी जारी की हुई थी। जिसके बाद सुरक्षाबल अतिरिक्त सावधानी बरत रहे थे। इसी दौरान एक व्यक्ति ने ख़ुद को पहले सेना का “गार्ड्स रेजिमेंट” से नाइक होने का दावा करते हुए उच्च सुरक्षा वाले वीवीआईपी क्षेत्र में प्रवेश करने की कोशिश की जब पुलिस ने उसे शक की बुनियाद पर रोका तो उसने खुद को NSG का अधिकारी बताया। इसके लिए उसने बाकायदा NSG का एक ID कार्ड भी दिखाया, लेकिन उसकी हरकते संदिग्ध थी। पुलिस ने NSG को इसकी सूचना दी तो NSG ने रामेश्वर के NSG से किसी तरह का संपर्क होने से इनकार कर दिया। 

आरोपी को कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजा 

गिरफ़्तार आरोपी की जांच पड़ताल में पता चला कि रामेश्वर मिश्रा नवी मुम्बई में रहता है और उसने साइंस से ग्रेजुएशन की पढ़ाई की है। आरोपी रामेश्वर मिश्रा पर अब धारा 171,465,468 और 471 के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपी को शुक्रवार को बांद्रा कोर्ट में पेश किया गया जहां कोर्ट ने उसे 24 जनवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

पुलिस को थी हमले की आशंका 

हालांकि मुंबई पुलिस को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुंबई दौरे के दौरान आतंकी हमले की आशंका पहले ही थी। इसके मद्देनजर मुम्बई पुंलिस ने एडवाइजरी  जारी की थी, जिसके तहत ड्रोन पैराग्लाइडर और लाइट माइक्रो एयरक्राफ्ट के जरिए हमले की आशंका प्रधानमंत्री मोदी के विजिट के दौरान एयरपोर्ट एमएमआरडीए ग्राउंड अंधेरी के गुंडावली और मोगरा पाड़ा इलाके में व्यक्त की गई थी। इसके साथ ही नो फ्लाइंग जोन नो पैराग्लाइडिंग जोन और नो ड्रोन जोन घोषित किया गया था। साथ ही  भीड़ को कंट्रोल नियंत्रित करने के लिए उन इलाकों में प्रधानमंत्री के आसपास के हिस्से में सुरक्षा बढ़ाने के और सख्त चेकिंग के निर्देश दिए गए थे। 

सुरक्षा एजेंसियां जुटी जांच में 

अब इस मामले में मुम्बई पुंलिस कैमरे पर तो ज्यादा जानकारी देने को तैयार नही है लेकिन ऑफ कैमरा एक अधिकारी ने बताया कि इस मामले की जांच मुम्बई पुलिस के साथ-साथ केंद्रीय एजेंसियां भी कर रही हैं इसलिए अभी ज्यादा कुछ कह नही सकते। पीएम मोदी की रैली में इस शख्स के घुसने के पीछे का मकसद क्या था, यह पूछताछ के जरिए एजेंसियां पता करने में जुटी हुई हैं। दरअसल पीएम मोदी की रैली से ठीक एक दिन पहले ही मुम्बई पुलिस ने बाकायदा सिक्योरिटी को लेकर एक एडवाइजरी जारी की थी। पुलिस यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही कि आरोपी ने  NSG का फर्जी आईडी कार्ड कहां से बनवाया? पीएम की वीवीआईपी सुरक्षा जोन में घुसने के पीछे उसकी क्या मंशा थी और वह कहां से आया था? इसके साथ ही आरोपी का बैकग्राउंड भी पता करने की कोशिश की जा रही है।

Latest India News



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *