Indian Railway:पूर्वोत्तर रेलवे के 15 नए रेलखंडों पर भी अधिकतम गति से दौड़ने लगीं ट्रेनें, कम समय में होगा सफर – Trains Started Running At Maximum Speed On 15 New Sections Of North Eastern Railway

सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : iStock

विस्तार

पूर्वोत्तर रेलवे में गोरखपुर-कैंट-वाल्मिकीनगर सहित 15 नए रेलखंडों पर अब ट्रेनें अधिकतम गति से दौड़ने लगी हैं। इन रेलखंडों पर ट्रेनों की गति को बढ़ाकर 80 से 90 किमी प्रति घंटे की जगह 110 किमी प्रति घंटे कर दिया गया है। इससे सफर में कम समय लगेगा। नई समय सारिणी में ट्रेनों का भी समय बदल जाएगा।

पूर्वोत्तर रेलवे में बीते वर्ष अप्रैल से दिसंबर तक 1030 किमी लंबाई में पटरियों की क्षमता बढ़ाई गई। इसके लिए भारी वजन की पटरियां और स्लीपर बिछाई गई। इन रेलखंडों पर स्पीड ट्रायल करके ट्रेनों को अब अधिकतम गति से चलाया जा रहा है।

लूप लाइनों पर भी दोगुनी हो गई गति

पूर्वोत्तर रेलवे के नौ रेलखंडों में लूप लाइनों पर भी गति को 15 किमी प्रति घंटे से बढ़ाकर 30 किमी प्रति घंटे कर दिया गया है। वर्ष 2022-23 में कुल 617 किमी रेलपथ पर गति बढ़ाई गई है। वाराणसी-प्रयागराज, छपरा कचहरी-थावे, मऊ-शाहगंज, औड़िहार-गाजीपुर सिटी, छपरा-औड़िहार, लखनऊ-मल्हौर, रामनाथपुर मुफ्तीगंज ओवरब्रिज और गोंडा-बहराइच रेलखंड पर लूप लाइन पर ट्रेनों की गति बढ़ाई गई है।

इन रेलखंडों पर बढ़ी ट्रेनों की गति

पीलीभीत-मझोला पकड़िया

भोजीपुरा-पीलीभीत

मझौला पकडियां-टनकपुर

फेफना-इंदारा

बरेली सिटी-लालकुआं

बरेली सिटी-कासगंज

पीलीभीत-शाहजहांपुर

डालीगंज-मैलानी

भटनी-इंदारा

गोंडा-बहराइच

माधोसिंह, हड़िया खास

गोरखपुर-कैंट-वाल्मिकी नगर

मनकापुर-अयोध्या

कासगंज-मथुरा

सिवान-थावे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *