Government clarified no right to sack WFI chief Brij Bhushan Sharan Singh wrestlers agitation Jantar mantar

Image Source : पीटीआई
बृजभूषण शरण सिंह

नई दिल्ली: देश के नामी-गिरामी पहलवानों द्वारा जहां भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह को बर्खास्त करने की मांग जोर पकड़ती जा रही है वहीं सरकार ने साफ कर दिया है कि बृजभूषण शरण सिंह को कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष पद से बर्खास्त करने का अधिकार नहीं है। वे चुनी हुई संस्था के अध्यक्ष हैं। कल देर रात खेल मंत्री अनुराग ठाकुर की धरना देनेवाले पहलवानों के साथ चार घंटे बात हुई थी।

जांच होने तक बृजभूषण खुद को कुश्ती संघ से अलग कर सकते हैं

सरकार ने कहा कि अगर खिलाड़ी सहमत हों तो जांच रिपोर्ट आने तक बृजभूषण शरण सिंह खुद को कुश्ती संघ से अलग कर सकते हैं। सरकार ने खिलाड़ियों से कहा कि यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति बनाई जा सकती है और इसके तीनों सदस्यों के नाम खिलाड़ी ही दे सकते हैं। जिन कोच के ऊपर आरोप हैं, वे भी जांच पूरी होने तक कुश्ती संघ से अलग हो सकते हैं।

सूत्रों के अनुसार यौन उत्पीड़न के आरोपों पर खिलाड़ी कुछ ठोस नहीं बता पाए। खिलाड़ियों ने कल रात कहा था कि सरकार के प्रस्तावों पर वे आज बात करने के लिए वापस आएंगे लेकिन अभी तक नहीं आए।

खबर ये भी है कि विनेश फोगाट ने टोक्यो ओलंपिक में टीम ड्रेस के बजाए स्पांसर की ड्रेस पहनी थी इस पर उन्हें कुश्ती संघ और भारतीय ओलंपिक संघ की ओर से डांटा गया था। लेकिन कुश्ती संघ ने उनके खिलाफ इस मुद्दे पर अनुशासनात्मक कार्रवाई नहीं की थी। सूत्रों के अनुसार सरकार चाहती है कि खिलाड़ियों का विरोध प्रदर्शन जल्द खत्म हो क्योंकि गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में अधिक दिन नहीं बचे हैं।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *