BJP claims Amit Shah public meetings will change the political atmosphere in Jammu and Kashmir-भाजपा का दावा, अमित शाह की जनसभाओं से बदलेगा जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक माहौल

Image Source : PTI
Jammu and Kashmir BJP chief Ravinder Raina

Jammu Kashmir: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की जम्मू-कश्मीर इकाई के प्रमुख रविंदर रैना ने शुक्रवार को कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की हालिया जनसभाएं केंद्र शासित प्रदेश में राजनीतिक माहौल को बदल देंगी। जम्मू क्षेत्र के राजौरी में मंगलवार को और उत्तरी कश्मीर के बारामूला में बुधवार को अमित शाह की रैलियों में बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। रविंदर रैना ने यहां संवाददाताओं से कहा, “ये विशाल रैलियां जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक परिदृश्य में एक महत्वपूर्ण मोड़ साबित होंगी। दोनों रैलियों में लोगों का उत्साह बेजोड़ और ऐतिहासिक था।” इस संवाददाता सम्मेलन में पूर्व उपमुख्यमंत्री कविंदर गुप्ता समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे। 

हर क्षेत्र को ध्यान विकास को किया सुनिश्चित

रविंदर रैना ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री की इन रैलियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की विकास नीतियों के प्रति जनता की “स्वीकृति, विश्वास और प्रेम” की पुष्टि की है। अमित शाह के कार्यक्रमों के दौरान रैना उनके साथ मौजूद रहे थे। भाजपा नेता ने कहा, “मोदी सरकार ने क्षेत्र और धर्म से परे, जम्मू-कश्मीर में हर समुदाय के कल्याण के लिए खुद को समर्पित किया है। प्रधानमंत्री ने हर क्षेत्र को ध्यान में रखते हुए विकास नीतियों को सुनिश्चित किया है।” 

सभी के लिए न्याय सुनिश्चित कर रही मोदी सरकार

नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला द्वारा जारी एक श्वेत पत्र पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए रैना ने कहा, “उन्हें (फारूक) पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर, गोरखाओं, दलितों, गद्दी-सिप्पी, वाल्मीकि, महिलाओं, गुर्जर-बकरवाल, डोगरा और कश्मीरी शरणार्थियों पर किए गए अत्याचारों के बारे में जवाब देना चाहिए।“ अब्दुल्ला ने तीन राजनीतिक परिवारों (अब्दुल्ला, मुफ्ती और गांधी) पर शाह के हमले के जवाब में यह श्वेत पत्र जारी किया था। भाजपा नेता ने कहा, “इन समुदायों के लोगों के साथ बीते 70 वर्षों के दौरान मानवाधिकारों का घोर उल्लंघन हुआ है। अब, मोदी सरकार सभी के लिए न्याय सुनिश्चित कर रही है।”

Latest India News

function loadFacebookScript(){
!function (f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq)
return;
n = f.fbq = function () {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments);
};
if (!f._fbq)
f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s);
}(window, document, ‘script’, ‘//connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘1684841475119151’);
fbq(‘track’, “PageView”);
}

window.addEventListener(‘load’, (event) => {
setTimeout(function(){
loadFacebookScript();
}, 7000);
});

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *