Aligarh News:मां के मोबाइल से होती थी चैटिंग, छात्रा को अगवा कर टीचर ने किया दुष्कर्म, ऐसे पकड़ कर भेजा जेल – Teacher Accused Of Kidnapping And Raping Girl Student Sent To Jail

पकड़ा गया आरोपी शिक्षक नितेंद्र राघव
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

अलीगढ़ के थाना गंगीरी क्षेत्र की कक्षा सात की छात्रा को उसके शिक्षक ने अगवा कर लिया। छात्रा को शिक्षक ने अपने घर में कैद रखा। छात्रा की मां के मोबाइल में एक नंबर पर हुई चैटिंग ने पुलिस को शिक्षक तक पहुंचा दिया और वह पकड़ा गया। पुलिस ने छात्रा को बरामद कर मेडिकल के लिए भेज दिया और आरोपी शिक्षक को जेल भेज दिया।

बुधवार को जब कक्षा सात की एक छात्रा घर वापस नहीं लौटी, तो घरवालों को चिंता होने लगी। थाना गंगीरी में छात्रा के अगवा होने की रिपोर्ट लिखाई गई। छात्रा के गायब होने की खबर पर पुलिस चिंता में पड़ गई थी। किसी भी तरह की अनहोनी की आशंकाएं पैदा होने लगी थीं। सीओ छर्रा शुभेंदु अधिकारी ने तीन टीमों का गठन किया और छात्रा की बरामदगी का प्रयास शुरू कर दिया। 

मां के मोबाइल से होती थी चैटिंग

छात्रा के परिवार की किसी भी तरह के कहीं से रंजिश या अन्य तरह की बात जब सामने नहीं आई तो उसके परिवार के नंबर देखे गए। मां के नंबर से एक नंबर पर कुछ संदेहास्पद चैटिंग सामने आईं। जब उस नंबर के विषय में परिजनों से पूछा तो वे अंजान थे। रात में पता चला कि यह नंबर तो छात्रा के शिक्षक है। उस नंबर पर बात हुई तो पहले शिक्षक ने कॉल उठाई और खुद को अपने घर बताया। मगर पुलिस को उसकी बातचीत पर संदेह हुआ और दुबारा कॉल मिलाई तो मोबाइल बंद हो गया।

थाने पर एकत्र हो गए थे ग्रामीण

शिक्षक के घर से छात्रा बरामद

गुरूवार को पुलिस शिक्षक के घर पहुंची। जहां उसकी पत्नी ने घर न आना स्वीकारा, बाद में पत्नी ने अपने दूसरे मकान व पति के दूसरे मोबाइल नंबर की जानकारी दी। बस फिर क्या था, पुलिस पुलिस ने छात्रा को सकुशल शिक्षक के घर आर ए एफ रोड, तिरूपति विहार, थाना मऊआखेडा से बरामद कर शिक्षक को भी हिरासत में ले लिया। छात्रा को मेडिकल के लिए भेजा गया।

शिक्षक को भेजा जेल

शुक्रवार को आरोपी शिक्षक नितेंद्र राघव पुत्र रवेंद्र राघाव निवासी शंकर विहार कालौनी, थाना मऊआ खेडा को दुष्कर्म, पॉक्सो, छेडछाड व अपहरण करने की धाराओं में जेल भेजा है। इसंपेक्टर संजीव कुमार ने बताया कि आरोपी शिक्षक ने पूछताछ में जानकारी दी कि छात्रा को अपनी कार में अपने बंद पडे घर में ले गया। रात आठ बजे तक छात्रा को वापस घर छोड़ देता, लेकिन मेरी कार वहीं शहर में एक खड्ढे में घुस गई, जिस कारण रातभर छात्रा को अपने घर में ही रखा। इधर छात्रा ने भी बताया कि शिक्षक ने मुझे बहला फुसला कर डराया था, इसलिए शिक्षक के साथ चली गयी थी।

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने इस मामले में अपनी नौकरी का पहला चार्ज संभाल रहे युवा सीओ शुभेंदु अधिकारी व उनकी पूरी टीम को 25 हजार के इनाम की घोषणा की है। इस टीम ने सर्विलांस, सीसीटीवी व अन्य तकनीक के जरिये रात भर में घटना का खुलासा किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *