Aligarh News:बिजली विभाग की लापरवाही से गई थी बच्चे की जान, जांच रिपोर्ट में हुआ साबित – Child Died Due To The Negligence Of The Electricity Department

बिजली विभाग
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

अलीगढ़ में जवां के हैवतपुर सिया में 19 दिसंबर को 11केवीए लाइन की चपेट में आने से पांच वर्षीय बालक मयंक की मौत के मामले में विद्युत महकमे की लापरवाही मानी गई है। विद्युत सुरक्षा निदेशालय अलीगढ़ शाखा की जांच रिपोर्ट में माना गया है कि विद्युत टीम ने लाइन का अनुरक्षण नहीं किया। जिससे जर्जर लाइन से बच्चे की मौत हुई। इस मामले में मुआवजे की संस्तुति की गई है।

इस संबंध में मयंक के पिता कोमल सिंह ने बताया कि बच्चे की मौत के मामले में जेई मनोज व अन्य स्टाफ पर मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले में नियमानुसार विद्युत सुरक्षा निदेशालय अलीगढ़ शाखा द्वारा जांच की गई। जांच दल ने अपनी रिपोर्ट दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक को भेजी है, जिसमें साफ कहा है कि इस विद्युत लाइन का अनुरक्षण यानि देखरेख/रखरखाव सही से नहीं हुआ। 

जिसके चलते लाइन जर्जर थी और तार टूटने से बालक की मौत हुई। इसके लिए संबंधित विद्युत टीम जिम्मेदार है। साथ ही मुआवजे की संस्तुति की गई है। इधर, पिता का आरोप है कि आज तक मुआवजा मिलने पर तो कोई बात नहीं हुई। उल्टा मुकदमा वापसी के लिए धमकी मिल रही है और कहा जा रहा है कि अगर बात नहीं मानी तो किसी मुकदमे में फंसा दिया जाएगा। इस पर पिता ने अब अधिकारियों से शिकायत की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *