हर्षा भोगले-बेन स्टोक्स के बीच दीप्ति के ‘मांकड़’ विवाद पर छिड़ा ट्वीट वॉर, जानिए किसने क्या कहा?

हाइलाइट्स

दीप्ति शर्मा का ‘मांकड़’ विवाद अब तक नहीं थमा है
अब इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स इसमें कूद गए हैं
स्टोक्स ने हर्षा भोगले के ट्वीट पर पलटवार किया है

नई दिल्ली. भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने हाल ही में इंग्लैंड को 3 वनडे की सीरीज में क्लीन स्वीप किया था. इस सीरीज का आखिरी मुकाबला लॉर्ड्स में हुआ था. यह भारतीय पेसर झूलन गोस्वामी का आखिरी इंटरनेशनल मैच था. लेकिन, उनके फेयरवेल मैच से ज्यादा यह मुकाबला किसी और वजह से चर्चा में है. दरअसल, इस मैच में भारतीय ऑफ स्पिनर दीप्ति शर्मा ने नॉन स्ट्राइकर छोर पर चार्ली डीन को क्रीज से बाहर निकलने के कारण मांकड़’ रन आउट किया.

दीप्ति ने यह रनआउट आईसीसी के बदले नियम के दायरों में रह कर ही किया था. लेकिन, इंग्लैंड की टीम और कई पूर्व क्रिकेटर ने इसे खेल भावना के विपरीत बताया और इसके बाद से ही क्रिकेट बिरादरी दो खेमों में बंट गई है. एक दीप्ति शर्मा के समर्थन में हैं, तो दूसरे उनकी इस हरकत का विरोध कर रहे हैं. अब इस विवाद में इंग्लैंड की टेस्ट टीम के कप्तान बेन स्टोक्स भी कूद गए हैं. उन्होंने हर्षा भोगले के ट्वीट पर पलटवार किया है.

दीप्ति शर्मा के खिलाफ सोशल मीडिया पर लगातार हो रहे हमले के बाद भारतीय कॉमेंटेटर हर्षा भोगले ने मैदान पकड़ा. उन्होंने एक के बाद एक कई सारे ट्वीट किए और दीप्ति की आलोचना करने वालों को मुंहतोड़ जवाब दिया.

भोगले ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘दुनिया के बड़े हिस्से पर ब्रिटेन ने काफी वक्त तक राज दिया है. उस वक्त बहुत ही कम सवाल उठे. नतीजा यह हुआ कि आज ही यही मानसिकता है कि इंग्लैंड जिसे गलत माने बाकी टीमें भी ठीक वैसा ही उसे माने और समझें. यह वैसा ही है, जैसे ऑस्ट्रेलियाई अपनी सीमा पार नहीं करने का उपदेश देते हैं. यह सिद्धांत उन्होंने अपनी संस्कृति के हिसाब से खुद कय किया है. जरूरी नहीं कि यह दूसरों के लिए भी ठीक हो सकता है. जैसा इंग्लैंड सोच रहा है, पूरी दुनिया उसके मुताबिक नहीं चल सकती. समाज में कानून का राज है, तो यह क्रिकेट में भी लागू होता है. लेकिन, मैं इस बात से परेशान हूं कि लोग दीप्ति की बेवजह आलोचना कर रहे हैं. उन्होंने क्रिकेट के नियमों में रहकर यह काम किया. ऐसे में उनकी आलोचना बंद होनी चाहिए.’

हर्षा के ट्वीट पर स्टोक्स का पलटवार
बस, हर्षा का यही ट्वीट बेन स्टोक्स को पंसद नहीं आया. उन्होंने इसके जवाब में लिखा, ‘हर्षा..मैं आपको बता दूंगा 2019 के विश्व कप को खत्म हुए 2 साल से अधिक का समय हो चुका है. लेकिन, आज भी भारतीय फैंस मुझे अलग-अलग तरह के मैसेज करते हैं. तो क्या यह बात आपको परेशान करती है?

हर्षा ने इंग्लैंड की संस्कृति पर सवाल उठाए थे
हर्षा भोगले ने इसके लिए इंग्लैंड की संस्कृति को जिम्मेदार ठहराया था. उन्होंने दीप्ति के बचाव में किए ट्वीट में लिखा था, ‘मुद्दा संस्कृति का है, ऐसा मैं इसलिये कह रहा हूं क्योंकि उनकी परवरिश ऐसी ही सोच के साथ होती है. इन्हें समझ नहीं आता कि गलत क्या है? वे जिसे गलत मान लेते हैं उन्हें लगता बाकी भी उसे ऐसा ही माने. यहीं से दिक्कत शुरू हो जाती है.’

स्टोक्स ने निकाली भड़ास
इस ट्वीट के जवाब में स्टोक्स ने लिखा, ‘क्या आपको लगता है कि यह संस्कृति से जुड़ा मामला है? बिल्कुल नहीं…मुझे दुनिया भर के लोगों से 2019 के विश्व कप में ओवर थ्रो को लेकर अलग-अलग तरह के मैसेज मिलते रहते हैं. ठीक, इसी तरह लोग दीप्ति शर्मा के मांकड़ के खिलाफ भी ट्वीट कर रहे हैं. इसमें इंग्लैंड ही इकलौता क्रिकेट खेलने वाला देश नहीं है. बाकी देश भी इस नियम को लेकर अपनी बात कह रहे हैं.’

इंग्लैंड जिसे गलत समझे, क्रिकेट की बाकी दुनिया भी उसे…’ हर्षा भोगले ने इंग्लिश मीडिया को जमकर लताड़ा

बाबर आजम ने छक्के से की रोहित-कोहली के क्लब में एंट्री, पाकिस्तान का कोई खिलाड़ी नहीं कर सका ऐसा

क्या था पूरा विवाद?
भारत और इंग्लैंड के बीच वनडे सीरीज का तीसरा मैच लॉर्ड्स में खेला गया था. भारतीय महिला टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 169 रन का स्कोर खड़ा किया था. इसके जवाब में इंग्लैंड की टीम 153 रन ही बना सकी थी. मैच में रोमांचक मोड़ तब आया था, जब इंग्लिश टीम को 40 गेंद में 17 रन की जरूरत थी और इंग्लैंड के 9 विकेट गिर चुके थे. इसी समय दीप्ति शर्मा गेंदबाजी के लिए आईं थीं और चार्ली डीन गेंद फेंकने से पहले ही क्रीज से बाहर निकल गईं थीं. दीप्ति ने नियमों को ध्यान में रखते हुए चार्ली को रन आउट कर दिया था, जिस पर विवाद अब तक जारी है.

Tags: Ben stokes, Charlie Dean, Deepti Sharma, Harsha Bhogle, Mankading, Women cricket

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *