वंदेभारत एक्‍सप्रेस में सोते हुए सफर किया जा सकेगा, बर्थ होंगी, जानें कब तक आएंगी ट्रैक पर?

हाइलाइट्स

यात्रियों की सुविधा को ध्‍यान में रखते हुए रेलवे का फैसला
स्‍लीपर कोच वाली वंदेभारत से दिन रात का सफर किया जा सकेगा

नई दिल्‍ली. जल्‍द यात्री वंदेभारत एक्‍सप्रेस में लेटकर भी सफर कर सकेंगे. कोच में थोड़ा बदलाव कर इसमें बर्थ लगाई जाएंगी. पहली स्‍लीपर कोच वाली ट्रेन का ट्रैक पर आने का समय तय हो गया है. ये ट्रेन लंबी दूरी का सफर तय करेंगी, जिसमें रात-दिन का सफर किया जा सकता है. आईसीएफ चेन्‍नई में इन कोचों का निर्माण किया जा रहा है. वंदेभारत से अवागमन में यात्रियों का समय बचेगा.

रेलवे मंत्रालय के अनुसार मौजूदा समय सभी वंदेभारत केवल चेयरकार वाली हैं, यानी इसमें बैठकर सफर किया जा सकता है. ये ट्रेनें जिन स्‍टेशनों से चलती हैं, रात में उन्‍हीं स्‍टेशनों में वापस आ जाती है. अब रेलवे वंदेभारत में बदलाव करेगा. यानी इन ट्रेनों को राजधानी की तरह चलाने की योजना है. जो दिन-रात चलेंगी. जिसमें लोग सोते हुए सफर कर सकेंगे.

स्‍लीपर कोच वाली वंदेभारत का ट्रैक पर आने का समय

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

राज्य चुनें

दिल्ली-एनसीआर

राज्य चुनें

दिल्ली-एनसीआर

रेलवे मंत्रालय के अनुसार स्‍लीपर कोच वाली वंदेभारत एक्‍सप्रेस का ट्रैक पर आने का समय तय हो गया है. अगले वर्ष अप्रैल से पहले ये ट्रेन ट्रैक पर आ जाएगी. इसमें राजधानी जैसे स्‍लीपर कोच लगेंगे. लेकिन राजधानी के मुकाबले कम समय में अपने गंतव्‍य तक पहुंचा जा सकेगा. ये ट्रेन आधुनिक सुविधाओं से लैस होंगी.

इन रूटों पर चल रही हैं वंदेभारत

देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन यानी वंदे भारत एक्सप्रेस वर्तमान में पांच रूटों पर चल रही है. पहली वंदेभारत नई दिल्ली-वाराणसी के बची चली. दूसरी नई दिल्ली-श्री वैष्णो देवी माता, कटरा तीसरी गांधीनगर से मुंबई, चौथी नई दिल्ली से अंब अंदौरा स्टेशन हिमाचल और पांचवीं चेन्‍नई-मैसूरू के बीच चल रही है, जो दक्षिण भारत की पहली वंदेभारत है.

मौजूदा समय वंदे भारत एक्‍सप्रेस की खासियत

नई वंदे भारत एक्सप्रेस हल्की है और मात्र 52 सेकंड में 100 किमी की रफ्तार पकड़ सकती है. फिलहाल, सभी वंदे भारत ट्रेनें पूरी तरह से वातानुकुलित हैं और उनमें स्वचालित दरवाजे हैं. वंदे भारत ट्रेन के चेयर को 180 डिग्री तक रोटेट किया जा सकता है. ट्रेन में जीपीएस आधारित इंफॉर्मेशन सिस्टम, सीसीटीवी कैमरे, वैक्यूम टॉयलेट हैं. इसमें पावर बैकअप की भी व्यवस्था है. यह ट्रेन सुरक्षा कवच से लैस है. सफर के दौरान यात्री खुद को सुरक्षित महसूस करें, इसका पूरा ध्यान रखा गया है. इसमें पुश बटन स्टॉप की सुविधा भी दी गई है. किसी भी आपात स्थिति में ट्रेन को एक बटन दबाकर रोका जा सकता है

Tags: Indian railway, Indian Railway news, Indian Railways, Vande bharat, Vande bharat train

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *