भारत को वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाला कप्तान बुरी तरह घायल, करियर बनाने के लिए छोड़ चुका है देश

हाइलाइट्स

उन्मुक्त अभी मेजर लीग क्रिकेट में हो रहे हैं शामिल
2012 में अपनी कप्तानी में भारत को बनाया चैंपियन

नई दिल्ली. उन्मुक्त चंद (Unmukt Chand) का नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज है. उनकी कप्तानी में भारत ने 2012 में अंडर-19 वर्ल्ड कप का खिताब जीता था. इसके बाद उन्हें आईपीएल से लेकर घरेलू क्रिकेट में खेलने का मौका मिला. लेकिन घरेलू टीम दिल्ली के साथ उनका विवाद रहा. इसके बाद वे दूसरे स्टेट से खेलने के लिए चले गए. अंत में उन्होंने देश छोड़ने का फैसला किया और अमेरिका जाकर बस गए. वे वहां मेजर लीग क्रिकेट में शामिल हो रहे हैं. 29 साल के इस खिलाड़ी ने शनिवार को अपने चोटिल होने की खबर सोशल मीडिया के द्वारा दी है.

उन्मुक्त चंद ने सोशल मीडिया पर लिखा, एथलीट के लिए कोई दिन आसान नहीं रहता. कभी आप जीतकर घर आते हैं और कभी निराश होते हैं. कभी आप चोटिल होकर भी आते हैं. मैं भगवान का शुक्रिया अदा करता हूं कि मुझे संभावित खतरे से बचा लिया. अच्छे से खेलिए, लेकिन सुरक्षित रहिए. इनके बीच एक महीन रेखा है. फैंस भी पूर्व भारतीय क्रिकेटर के जल्द सही होने की दुआ मांग रहे हैं और सोशल मीडिया पर उनके स्वस्थ होने की बात कही है.

टैक्सी ड्राइवर के बेटे ने फाइनल में पुजारा की टीम को झकझोरा, क्रिकेट के लिए छोड़ना पड़ा अपना राज्य

टी20 में लगा चुके हैं शतक
उन्मुक्त चंद का रिकॉर्ड क्लास क्रिकेट में संतोषजनक है. उन्होंने 67 मैच में 32 की औसत से 3379 रन बनाए हैं. 8 शतक और 16 अर्धशतक लगाया है. 151 रन की बेस्ट पारी खेली है. वहीं लिस्ट-ए के 120 मैच में 41 की औसत से 4505 रन बनाए हैं. 7 शतक और 32 अर्धशतक जड़ा है. 127 रन की सर्वश्रेष्ठ पारी खेली है. वहीं ओवरऑल टी20 के 79 मैच में वे 1600 रन बना चुके हैं. 3 शतक और 5 अर्धशतक लगाया है.

Tags: Team india, Unmukt Chand, USA

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *