बागेश्वर धाम वाले धीरेंद्र शास्त्री कैसे दिखाते हैं चमत्कार? कांग्रेस के इस नेता ने की वैज्ञानिक व्याख्या

भोपाल. बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पं. धीरेंद्र शास्त्री के दरबार और चमत्कारों को लेकर देशभर में बहस छिड़ी है. नेताओं और संतों की अलग-अलग व्याख्याएं सामने आ रही हैं. इस बीच राम कथा वाचन के लिए मशहूर मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता मुकेश नायक ने भी बागेश्वर धाम के चमत्कारों का समर्थन कर दिया है. भोपाल में न्यूज 18 इंडिया से बातचीत में मुकेश नायक ने इसे ज्योतिषमशी प्रज्ञा का हिस्सा बताया है. उन्होंने कहा कि जब लाखों लोग बागेश्वर धाम के पीछे दौड़ रहे हैं तो हम कैसे कह सकते हैं कि वो ठीक नहीं कर रहे हैं? ये तमाशा नहीं है. कुछ तो है. मैं भी सनातनी होने के नाते उनको प्रणाम करता हूं, क्योंकि वो व्यास पीठ पर बैठते हैं.

कथाकार और मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री कांग्रेस नेता मुकेश नायक ने कहा कि वैदिक वांगमय में चर्चा है जिसमें जिसकी ज्योतिषमशी प्रज्ञा जागृत है वो बीज को उठाकर बता देता है कि उसके अंदर कितना बड़ा वृक्ष बंद है. मैं किसी के प्रकार के चमत्कार को नहीं मानता. मैं सनातनी हूं. राम कथा बोलता हूं और प्रभु राम मेरे आराध्य हैं. मैं बागेश्वर धाम के महाराज का बहुत आदर करता हूं. असंख्य श्रद्धालुओं का सम्मान करता हूं जो बागेश्वर धाम में श्रद्धा रखते हैं.

मुकेश नायक ने कहा कि उनके आसपास जो भी होता है उसका वैज्ञानिक कारण ये है कि कभी कभी जब भक्त का भाव और अनुराग बहुत प्रगाढ़ होता है तो मन बुद्धि और इंद्रियां उसको संभाल नहीं पाते हैं. उनके शरीर थिरकने लगते हैं. एक तरह का ये रेचन भी होता है कि जो अवचेतन में पड़ी गांठे हैं वो इष्ट भाव की अवस्था में खुलती हैं. उससे तनाव भी दूर होता है.

आपके शहर से (भोपाल)

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश

श्याम मानव की चुनौती के बारे में उन्होंने कहा कि जैसे न्यूटन ने फल को नीचे गिरते हुए देखा और कहा कि ये ग्रेविटेशन फोर्स है. इसका मतलब ये नहीं हुआ कि उसके पहले ग्रेविटेशन फोर्स नहीं था. आज भी विज्ञान को आध्यात्मिक क्षेत्र और परा की चेतना की वो आध्यात्मिक बातें अभी पकड़ना है जो रहस्य बनी हुई हैं.

Tags: Bageshwar Dham, Bhopal news, Mp news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *