पहले कपड़े उतारे फिर तोड़ दी मूर्ति, ब्रिटेन और कनाडा के बाद इस देश में मंदिरों पर हुए हमले-Temple vandalized in Trinidad and Tobago

Image Source : INDIA TV
Attack on Hindu Temples

Highlights

  • 2 मंदिरों को टारगेट किया गया
  • अंदर घुस कर काफी तोड़फोड़ की गई
  • एक काली माता मंदिर पर कुछ अज्ञात बदमाशों ने हमला बोल दिया

Attack on Hindu Temples: भारत समेत दुनिया भर से खबरें मिल रही है कि हिंदुओं के मंदिर और मूर्तियों पर अटैक किए जा रहे हैं। पिछले ही दिनों कनाडा और ब्रिटेन में हिंदू मंदिरों को टारगेट किया गया था वहीं भारत में लखनऊ, झारखंड, हैदराबाद समेत अन्य कुछ इलाकों में मंदिर में रखे गए मूर्तियों को छतिग्रस्त पहुंचाया गया। 

1 घंटे के भीतर दो मंदिरों पर हमला 

कनाडा और इंग्लैंड का मामला शांत अभी हुआ ही नहीं था कि विदेशी धरती पर एक बार फिर हिंदुओं के धार्मिक स्थल को निशाना बनाया गया। इस बार कोई पश्चिमी देश नहीं बल्कि कैरेबियन द्वीप के त्रिनिदाद और टोबैगो है। यहां हिंदू मंदिरों पर हमला किया गया जिसके बाद वहां रहने वाले हिंदुओं के अंदर आक्रोश देखा गया। आपको हाथ जानकर हैरानी होगी कि महज 1 घंटे के भीतर ही 2 मंदिरों को टारगेट किया गया। मंदिर के अंदर घुस कर काफी तोड़फोड़ की गई। मंदिर काउआ और पैनल कस्बे में स्थित है। 

मूर्ती पर लगाया था जैतून का तेल 
जानकारी के मुताबिक, 28 सितंबर को काउआ स्थित एक काली माता मंदिर पर कुछ अज्ञात बदमाशों ने हमला बोल दिया। हमलावरों ने मंदिर के भीतर घुसकर टारगेट बनाकर मूर्तियों को तोड़ा। कुछ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बदमाशों ने मूर्ति पर जैतून का तेल भी लगाया और जाते-जाते बाइबल की एक कविता भी लिख डाली। इस कविता का एकमात्र उद्देश्य था कि हिंदू डर जाए यानी आसान भाषा में कहें तो हिंदुओं को चेतावनी दिया गया। अपराधियों ने मंदिर की बाहरी दीवारों पर बड़े लाल अक्षरों में ‘पढ़ें निर्गमन 20:3-4’ लिखा था। 

देवी मां के मंदिर को बनाया निशाना 
इस घटना के संबंध में मंदिर के पुजारी सत्यानंद महाराज ने बताया कि यह घटना उस दौरान घटी जब मंदिर के सेवादार नवरात्रि की पूजा पूरी कर अपने-अपने घर की ओर निकल गए थे। उन्होंने आगे बताया कि बदमाशों ने मंदिर के कई हिस्सों को क्षतिग्रस्त कर दिया। देवी मां की मूर्ति को भी निशाना बनाया गया। वही मूर्तियों को जैतून के तेल से नहला दिया गया। वही पंडित सत्यानंद ने बताया कि इसकी शिकायत कौवा पुलिस स्टेशन में की गई है। 

देवी-देवताओं के उतार दिए कपड़े 
कौवा मंदिर हुए हमले से पहले पैनल कस्बे में स्थित गणेश भगवान के मंदिर को निशाना बनाया गया था। यह घटना 22 सितंबर की रात को बताई गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुजारी अगले दिन सुबह मंदिर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि मंदिर का पिछला दरवाजा क्षतिग्रस्त हुआ है। इसके अलावा मंदिर के अंदर रखी हुई मूर्तियों को तोड़ा गया है। सबसे आश्चर्यचकित कर देने वाली बात है कि देवी-देवताओं के ऊपर से कपड़े उतार दिए गए थे। पुजारी ने बताया कि मंदिर के अंदर नशीले पदार्थों का सेवन भी किया गया था। इस संबंध में आगे पुजारी ने बताया कि हम ने आनन-फानन में जाकर इसकी शिकायत की। 

भारत में भी मंदिर तोड़ने का सिलसिला जारी
भारत के कई हिस्सों से भी आए दिन खबर मिलती है कि मंदिर के अंदर घुसकर मूर्तियों को तोड़ दिया गया। इसी साल बात करें तो गोरखपुर, रांची, लखनऊ और हैदराबाद में मंदिर को निशाना बनाया गया था। इसमें सबसे हैरान करने वाली बात थी कि जो मंदिर तोड़ते थे। वो मानसिक रोगी निकल जाते थे। पुलिस उन्हें मानसिक रोगी करार कर देती थी। पिछले महीने रांची मेन रोड स्थित हनुमान जी की मंदिर के भीतर रखी गई मूर्तियों को तोड़ा गया। घटना की खबर मिलते ही पुलिस भी तुरंत एक्टिव हो गई थी। पुलिस ने मूर्ति तोड़ने वाले आरोपी रमीज अहमद को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस ने बताया कि युवक की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। इसलिए उसने ऐसा कृत्य किया था। 

Latest India News

function loadFacebookScript(){
!function (f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq)
return;
n = f.fbq = function () {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments);
};
if (!f._fbq)
f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s);
}(window, document, ‘script’, ‘//connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘1684841475119151’);
fbq(‘track’, “PageView”);
}

window.addEventListener(‘load’, (event) => {
setTimeout(function(){
loadFacebookScript();
}, 7000);
});

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *