नेताजी सुभाष चन्द्र बोस:हाथ से हाथ मिलाकर बनाई मानव श्रंखला, यातायात नियम पालन की दिलाई शपथ – Human Chain Made By Joining Hands On Netaji Subhash Chandra Bose Jayanti

अलीगढ़ डीएम इंद्र विक्रम सिंह नेताजी का माल्याणपर्ण करते हुए
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर अलीगढ़ में जनमानस की सहभागिता से मानव श्रंखला बनाई। यातायात नियमों के पालन के  प्रति जागरूक करने के लिए शपथ दिलाई गई। स्वयंसेवी संगठनों, सामाजिक संस्थाओं, स्काउट गाइड, एनसीसी-एनएसएस कैडेट्स ने बढ़चढ़ कर भाग लिया।

 नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती के अवसर पर डीएम इन्द्र विक्रम सिंह एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने सुभाष चैक पर नेताजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर नमन किया। एनसीसी, एनएसएस एवं स्कूली छात्र-छात्राओं ने भी नेताजी का माल्यार्पण किया। सड़क सुरक्षा माह के तहत जनपद, तहसील एवं ब्लॉक के साथ ही ग्रामीण अंचलों में स्वयंसेवी संगठनों, सामाजिक संस्थाओं, स्काउट गाइड, एनसीसी-एनएसएस कैडेट्स द्वारा जनमानस की सहभागिता से मानव श्रंखला बनाकर यातायात सुरक्षा एवं नियमों के प्रति जागरूक किया गया। डीएम-एसएसपी ने सुभाष चैक पर यातायात नियमों के अनुपालन के लिये शपथ भी दिलाई। वंदे मातरम्, भारत माता की जय के उद्घोष के साथ डीएम-एसएसपी ने स्कूली बच्चों के साथ फोटो खिंचाकर उनकी हौसला अफजाई भी की।

मानव श्रंखला

तीन जगहों पर बनीं मानव श्रंखला

क्वार्सी चैराहे से रामबाग तिराहा, किशनपुर तिराहा, गांधी नेत्र चिकित्सालय तिराहे से एसबीआई तिराहा, सुभाष चैक, कन्ट्रोल रूम तिराहा से लाल डिग्गी हैबीटेट सेंटर तक मानव श्रंखला बनाई गयी। इसी प्रकार से दूसरी मानव श्रंखला गांधी नेत्र चिकित्सालय से मीनाक्षी पुल, दुबे का पड़ाव, गांधी पार्क बस स्टैण्ड, मानिक चैक, मदार गेट, हाथरस अड्डा, खिरनी गेट चैकी से सासनीगेट चैराहे तक बनी। तीसरी मानव श्रंखला गांधी पार्क बस अड्डे से अचल, नौरंगाबाद से एटा चुंगी चैराहे तक मानव श्रंखला बनी।

शपथ दिलाते हुए

    

प्रतिज्ञा करते हैं कि हम…

डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने शपथ दिलाई कि प्रतिज्ञा करते हैं कि हम सड़क पर सदैव यातायात नियमों का पालन करेंगे और सुरक्षित यात्रा के लिये दोपहिया वाहन चलाते समय स्वयं व पीछे बैठे व्यक्ति को बीआईएस मानक वाले हैलमेट अवश्य पहनेंगे व पहनाएंगे। चारपहिया वाहन चलाते समय हमेशा शीटबेल्ट लगाएंगे। लेन ड्राइविंग के नियमों का पालन करेंगे। तेज रफ्तार एवं गलत दिशा में वाहन नहीं चलाएंगे। वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग नहीं करेंगे। शराब पीकर या नशे की हालत में वाहन नहीं चलाएंगे। सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की मदद के लिये सदैव तत्पर रहेंगे। घर पर बच्चे इंतजार कर रहे हैं, ऐसे में सदैव सुरक्षित और सावधानी से वाहन चलाएंगे।

हवा के झोंके से बुझी मोमबत्ती तो दोबारा जल जाएगी, पर….

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने कहा कि हवा के झोंके से बुझी मोमबत्ती तो दोबारा जल जाएगी, परन्तु सड़क पर हल्की सी लापरवाही में गयी जान वापस नहीं आएगी। कई बार देखा गया है कि हमारी छोटी सी असावधानी के कारण बड़ी दुर्घटनाएं हो जाती हैं, जिसका सीधा असर परिवार, समाज और राष्ट्र पर पड़ता है।

मानव श्रंखला में ये भी थे

मानव श्रंखला में सीएमओ डॉ नीरज त्यागी, आरटीओ हरिशंकर, फरीदुद्दीन, एआरटीओ अमिताभ चतुर्वेदी, एआरटीओ प्रवेश कुमार, एसपी ट्रैफिक मुकेश चन्द उत्तम, सीओ शिव प्रताप सिंह, डीआईओएस सर्वदानन्द, एडीआईओएस मनोरमा ठाकुर आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *