‘छत्तीसगढ़िया ओलंपिक’ खेल के दौरान महिला खिलाड़ी की मौत, कबड्डी खेलते वक्त हुई थी घायल। Female player died during the ‘Chhattisgarhia Olympics’ game, was injured while playing kabaddi


Chhattisgarh Olympics

Highlights

  • ‘छत्तीसगढ़िया ओलंपिक’ खेल के दौरान महिला कबड्डी खिलाड़ी की मौत
  • कबड्डी प्रतियोगिता के दौरान घायल हो गई थी यह खिलाड़ी
  • रायपुर के अस्पताल में इलाज के दौरान हुई महिला खिलाड़ी की मौत

Chhattisgarhia Olympics: छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में ‘छत्तीसगढ़िया ओलंपिक’ खेल के दौरान महिला कबड्डी खिलाड़ी की मौत हो गई है। जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिले के माकड़ी क्षेत्र के अंतर्गत मांझीबोरंड गांव में छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में कबड्ड़ी खेल के दौरान शांति मंडावी की मौत हो गई है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को मांझीबोरंड गांव निवासी मंडावी कबड्डी प्रतियोगिता के दौरान घायल हो गई थीं, जहां से उन्हें माकड़ी सामुदायिक केंद्र में प्राथमिक उपचार के लिए भेजा गया था। अधिकारियों ने बताया कि हालत सामान्य नहीं होने पर डॉक्टरों ने मंडावी को बेहतर इलाज के लिए रायपुर भेज दिया, जहां इलाज के दौरान आज मंडावी की मृत्यु हो गई।

सीएम ने जताया दुख

घटना के बाद जिला प्रशासन के अधिकारियों ने मंडावी के गृह ग्राम पहुंचकर शोक जताया। अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंडावी के निधन पर दुख जताया है। उन्होंने मृत महिला के परिवारजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता मंजूर की है। इससे पहले इस महीने की 11 तारीख को रायगढ़ जिले में ‘छत्तीसगढ़िया ओलंपिक’ खेल के दौरान कबड्डी खिलाड़ी की मौत हो गई थी। 

छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में पारंपरिक खेलों को दिया जाएगा बढ़ावा

छत्तीसगढ़ के पारंपरिक खेल गतिविधियों को ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों मे प्रोत्साहित करने के लिए छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेलों का आयोजन पहली बार आगामी छह अक्टूबर से छह जनवरी तक किया जा रहा है। इन खेलों की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। राज्य के मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने बैठक में विभागीय अधिकारियों से कहा कि जिन स्थानों पर आयोजन समितियों का गठन नहीं किया गया है। वहां पांच अक्टूबर से पहले सभी स्तरों पर आयोजन समितियों का गठन कर लिया जाए।

इन खेलों को किया गया शामिल

छत्तीसगढ़िया ओलंपिक की मार्गदर्शिका एवं कार्ययोजना के तहत खेल प्रतियोगिताएं दो श्रेणी में होंगी। इसमें खेल विधाओं के अनुसार दलीय एवं एकल श्रेणी निर्धारित की गई है। दलीय श्रेणी में गिल्ली डंडा, पिठूल, सांखली, लंगड़ी दौड़, कबड्डी, खो-खो, रस्साकसी और बांटी (कंचा) जैसी छत्तीसगढ़िया खेल विधाएं शामिल हैं। एकल श्रेणी में बिल्लस, फुगड़ी, गेड़ी दौड़, भंवरा, 100 मीटर दौड़ एवं लम्बी कूद शामिल हैं।

खेलों में बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक भाग लेंगे

छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेलों के छह स्तर निर्धारित किये गये हैं। इसके अनुसार पहले ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्र स्तर पर राजीव गांधी युवा मितान क्लब में खेलों का आयोजन नाकआउट पद्धति से होगा। दूसरा स्तर जोन है जिसमें आठ राजीव युवा मितान क्लब को मिलाकर एक क्लब होगा। तीसरे स्तर पर विकासखण्ड तथा नगरीय क्लस्टर स्तर, जिला, संभाग और अंत में राज्य स्तर पर खेल प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी। खेलों में बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक भाग लेंगे। इसमें प्रथम वर्ग 18 वर्ष की आयु तक, दूसरा 18 से 40 वर्ष आयु वर्ग और तीसरा वर्ग 40 वर्ष से अधिक उम्र के लिए है। इन प्रतियोगिता में महिला एवं पुरूष दोनों वर्ग में प्रतिभागी होंगी।

Latest India News

function loadFacebookScript(){
!function (f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq)
return;
n = f.fbq = function () {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments);
};
if (!f._fbq)
f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s);
}(window, document, ‘script’, ‘//connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘1684841475119151’);
fbq(‘track’, “PageView”);
}

window.addEventListener(‘load’, (event) => {
setTimeout(function(){
loadFacebookScript();
}, 7000);
});

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *