ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी का मामला: श्रीकांत त्यागी की पत्नी ने उखाड़े गए पेड़ फिर से लगवाए

Image Source : FILE
Anu Tyagi

Noida News: ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी में पेड़ का मामला ज्यादा तूल पकड़ने लगा है। एक तरफ शुक्रवार को नोएडा अथॉरिटी की टीम ने चार बुलडोजर के साथ करीब 16 अवैध निर्माणों को तोड़ा और श्रीकांत त्यागी के घर के बाहर लगे पाम ट्री के 10 पेड़ भी उखाड़ दिए थे। उसके बाद रात में एक बार फिर श्रीकांत की पत्नी अनु त्यागी ने अपने घर के बाहर पेड़ लगवा दिए। बार-बार पेड़ लगाकर यह दिखाया जा रहा है कि वे पीछे हटने वाले नहीं हैं।

17 पाम ट्री में से 12 उखाड़कर फेंक दिए गए थे

नोएडा की ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी में शुक्रवार को बुलडोजर चला। अधिकारियों ने करीब 6.30 घंटे तक कार्रवाई की। चार बुलडोजर और चार डंपर देखकर सोसायटी के लोगों ने विरोध किया। सरकार के खिलाफ नारे लगाए। लेकिन इसके बाद भी कार्रवाई नहीं रुकी। कुछ महिलाएं अधिकारियों के सामने फूट-फूटकर रोने लगीं। श्रीकांत त्यागी के घर के बाहर लगे 17 पाम ट्री में 12 पेड़ उखाड़कर फेंक दिए गए। इसके अलावा 16 फ्लैट ओनर्स के अवैध निर्माण बुलडोजर से ढहा दिए गए।

132 फ्लैट मालिकों को दिया था 48 घंटे का अल्टीमेटम

आधिकारियों के लौटने के बाद रात में अनु त्यागी ने उखाड़े गए पेड़ों को फिर से लगवा दिया। 132 फ्लैट मालिकों को अवैध निर्माण हटाने के लिए 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया थाए लेकिन इसके बाद भी लोगों ने अवैध निर्माण नहीं हटाए। श्रीकांत की पत्नी ने कार्रवाई का विरोध किया। उन्होंने बिल्डर का दिया एनओसी भी दिखायाए लेकिन अधिकारी नहीं माने। अलेक्जेंडर टावर में बाउंड्रीवॉल को भी तोड़ा गया। यहां अवैध रूप से लगाए गए पेड़ भी हटवा दिए गए।

बुलडोजर एक्शन पर कोर्ट ने 20 अक्टूबर तक लगाई रोक

उधर, श्रीकांत त्यागी वाली ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी के लोगों को बुलडोजर एक्शन से राहत मिल गई। यह रोक 20 अक्टूबर तक लगाई गई है। इस तरह से 20 अक्टूबर तक नोएडा अथॉरिटी का बुलडोजर सोसाइटी में नहीं गरजेगा और कोर्ट के इस आदेश के बाद सोसाइटी के लोगों को बड़ी राहत मिल गई है। 

बता दें गालीबाज नेता श्रीकांत त्यागी के सोसायटी की ही एक महिला के साथ बदसलूकी के मामले के बाद यह सोसायटी चर्चा में आई थी। इसके बाद श्रीकांत त्यागी को कोर्ट फिर वहां से जेल भेज दिया गया था। 

Latest Uttar Pradesh News

function loadFacebookScript(){
!function (f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq)
return;
n = f.fbq = function () {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments);
};
if (!f._fbq)
f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s);
}(window, document, ‘script’, ‘//connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘1684841475119151’);
fbq(‘track’, “PageView”);
}

window.addEventListener(‘load’, (event) => {
setTimeout(function(){
loadFacebookScript();
}, 7000);
});

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *