अनंत और राधिका की सगाई में दिखी गुजराती परंपरा की झलक, गोल-धाणा और चुनरी की हुई रस्म

मुंबई. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन और एमडी मुकेश अंबानी और नीता अंबानी के छोटे बेटे अनंत अंबानी और उनकी मंगेतर राधिका मर्चेंट की गुरुवार को सगाई हुई. सगाई समारोह में गुजराती परंपराओं की झलक दिखी. गोल-धाणा और चुनरी विधि जैसी परंपरागत रस्में निभाई गईं. इसके बाद अनंत और राधिका ने एक दूसरे को अंगूठियां पहनाईं. आपको बता दें कि इन दोनों की मेहंदी की रस्म मंगलवार को हुई थी. गोल-धाणा और चुनरी विधि सदियों पुरानी गुजराती परंपरा है. गुजरात के हिंदू परिवार इसे आज भी अपनाए हुए हैं. इसे एक पारंपरिक उत्सव की तरह मनाया जाता है.

गोल-धाणा का शाब्दिक अर्थ है गुड़ और धनिये का बीज. यह गुजराती परंपराओं में सगाई के समान एक विवाह पूर्व समारोह है. कार्यक्रम के दौरान इन वस्तुओं को दूल्हे के घर पर वितरित किया जाता है. दुल्हन का परिवार दूल्हे के घर उपहार और मिठाई लेकर आता है और फिर जोड़ा एक दूसरे को अंगूठियां पहनाता है. इसके बाद जोड़ा अपने बड़ों से आशीर्वाद लेता है.

मुंबई स्थित एंटीलिया में अनंत और राधिका के सगाई समारोह में अंबानी परिवार.

सगाई समारोह में परंपरा की झलक
इससे पहले गुरुवार की शाम ईशा अंबानी ने परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मर्चेंट निवास पर पहुंचकर राधिका और उनके परिवार वालों को आमंत्रित किया. इसके बाद वधू पक्ष के लोग अंबानी आवास पर पहुंचे, जहां आरती और मंत्रोच्चारण के बीच राधिका मर्चेंट और उनके परिजनों का स्वागत किया गया. फिर सभी लोग भगवान कृष्ण का आशीर्वाद लेने मंदिर गए, जहां इस जोड़े के उज्ज्वल भविष्य की कामना की गई. इसके बाद समारोह स्थल पर गणेश पूजा हुई और पारंपरिक रूप से लगन पत्रिका का पाठ किया गया. इसके बाद गोल-धाणा और चुनरी विधि की शुरुआत हुई, जिसमें दोनों परिवारों ने एक दूसरे को उपहार दिए. पारंपरिक रस्मे निभाने के बाद ईशा अंबानी ने रिंग सेरेमनी शुरू करने की घोषणा की. तब अनंत और राधिका ने एक दूसरे को अंगूठी पहनाई और परिवार के बड़े-बुजुर्गों का आशीर्वाद लिया.

(डिस्क्लेमर – नेटवर्क18 और टीवी18 कंपनियां चैनल/वेबसाइट का संचालन करती हैं, जिनका नियंत्रण इंडिपेंडेट मीडिया ट्रस्ट करता है, जिसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज एकमात्र लाभार्थी है.)

Tags: Anant Ambani, Mukesh ambani, Radhika Merchent

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *